Follow Us
  • SIGN UP
  • tumbhi microsites
tumbhi microsites

writingKahab hai

खाब है आजाद है , नीदो से इनको एतराज है____2

फिर पूछ लेता हूं मै, क्या तुझे थकान है

       " खाब है ! खाब है ''___2

 

इक बार तू , हर बार तू , भूला नही अपनी राह तू_____2

       चल रहा ! चल रहा ! चल रहा !

मजिल ना जाने कहा है तेरी , परवाह नही हो जाऐ देरी___2

 

खाब है आजाद है , नींदो से इनको एतराज है

    खाब है ! खाब है,

               खाब है आजाद है ! खाब है

                       

Song motivation

Report Abuse

Please login to report abuse.
Click on the Report Abuse button if you find this item offensive or humiliating. The item will be deleted/blocked once approved by the admin.

Writing by

navdeep singh

Likes

1

Views

5

Comments

0

View More from me

You May Also Like

GO