Follow Us
  • SIGN UP
  • tumbhi microsites
tumbhi microsites

writingDidar unka jo ho gaya tha

दीदार उनका जो हो गया था
दिल दीवाना ये खो गया था
फिर भी उनसे ना कह ये पाए
पयार उनसे ही हो गया था
दीदार उनका जो हो गया था।

निगाहे उनसे मिल गई थी
दिल की कलियां खिल गई थी
तीर आंखों से जो चलाया
होश मेरा यूं खो गया था
दीदार उनका जो हो गया था

होश संभाला तो मैंने जाना
बन ना जाए कोई फसाना
बात होठो मे  फिर दबा ली
रुसवाई का डर हो गया था
दीदार उनका जो हो गया था।

दिल की धड़कन खो रही थी
आंखें भी नम सी हो रही थी
मंजर था वह अजब निराला
मिल के भी वो खो गया था।
दीदार उनका जो हो गया था।

बात दिल कि मैं कह ना पाई
पास उनके भी रह ना पाई
याद अपनी उनहे बनाया
हिस्सा दिल का जो हो गया था
दीदार उनका जो हो गया था

This Gazal describes the feelings of a girl when she saw a boy and she felt in love with him but she hides her feeling and lost her.

Report Abuse

Please login to report abuse.
Click on the Report Abuse button if you find this item offensive or humiliating. The item will be deleted/blocked once approved by the admin.

View More from me

You May Also Like

GO